अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में भारत-बहरीन संयुक्त कार्य समूह की पहली बैठक हुई

भारत, शुक्रवार, 05 फरवरी, 2021: भारत और बहरीन की सल्तनत के बीच अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में संयुक्त कार्य समूह की पहली वर्चुअल बैठक कल हुई। बहरीन प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व सस्टेनेबल एनर्जी अथॉरिटी के अध्यक्ष एच. ई. डॉ. अब्दुल हुसैन बिन अली मिर्जा ने किया। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के संयुक्त सचिव एच.ई. श्री दिनेश दयानंद जगदाले ने किया। बहरीन की सल्तनत में भारत के राजदूत एच. ई.  बैठक में पीयूष श्रीवास्तव ने भी बैठक भाग लिया।

मिलिए बेहद डायनामिक एवं सक्षम मस्तिष्क शल्य चिकित्सक डॉ. गुरनीत सिंह साहनी से जो उपलब्ध हैं मुंबई फोर्टिस अस्पताल मुलुंड और सावला डायग्नोस्टिक सेंटर और पॉलीक्लिनिक चेंबूर में

मिलिए बेहद डायनामिक एवं सक्षम मस्तिष्क शल्य चिकित्सक डॉ. गुरनीत सिंह साहनी से जो उपलब्ध हैं मुंबई फोर्टिस अस्पताल मुलुंड और सावला डायग्नोस्टिक सेंटर और पॉलीक्लिनिक चेंबूर में
डॉ. गुरनीत सिंह साहनी ऑफिसियल वेबसाइट http://drgurneetsawhney.com
सोमवार, 9 नवंबर, 2020, नवी मुंबई, महाराष्ट्र, भारत: न्यूरोसर्जरी एक जटिल, महत्वपूर्ण और पेचीदगी भरी शल्य प्रक्रिया है। मस्तिष्क विकारों को सटीक निदान की आवश्यकता होती है, जो एक कुशल न्यूरोसर्जन से उपयुक्त उपचार के बाद होती है।

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री श्री प्रविंद जगन्नाथ ने संयुक्त रूप से सुप्रीम कोर्ट के नए भवन का उद्घाटन किया

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री श्री प्रविंद जगन्नाथ ने संयुक्त रूप से सुप्रीम कोर्ट के नए भवन का उद्घाटन किया

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पारंपरिक चिकित्सा पद्धति और होम्योपैथी के क्षेत्र में सहयोग पर भारत और जिम्बाब्वे के बीच समझौता ज्ञापन को मंज़ूरी दे दी है

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पारंपरिक चिकित्सा पद्धति और होम्योपैथी के क्षेत्र में सहयोग पर भारत और जिम्बाब्वे के बीच समझौता ज्ञापन को मंज़ूरी दे दी है

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पारंपरिक चिकित्सा पद्धति और होम्योपैथी के क्षेत्र में सहयोग पर भारत और जिम्बाब्वे के बीच हस्ताक्षर किए गए समझौता ज्ञापन को पूर्वस्वीकृति प्रदान की है। समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर 30 नवंबर, 2018 को हस्ताक्षर किए गए थे।

विवरण:

178014 एक्टिव और कुल 440215 कोरोना रोगी: भारत कोविद -19 अपडेट 23 जून 2020 सुबह

248190 ठीक / डिस्चार्ज और 14011 की मौत के साथ 1 माइग्रेटेड और 178014 एक्टिव कोरोना पॉजिटिव रोगी के मामले आज भारत में हैं: मंगलवार 23 जून 2020, 08:00 IST (GMT + 5: 30) जो आज तक कुल 440415 कोरोना मरीज हैं।

 

योग कोविद 19 वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है, पीएम ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर राष्ट्र को संबोधित किया, योग दिवस एकजुटता और सार्वभौमिक भाईचारे का दिन है, भारत के पीएम कहते हैं

नई दिल्ली 21 जून 2020 अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पीएम के संबोधन का पाठ

नमस्कार !!

छठे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की आप सभी को बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का ये दिन एकजुटता का दिन है। ये विश्व बंधुत्व के संदेश का दिन है। ये oneness of humanness का दिन है। जो हमें जोड़े, साथ लाये वही तो योग है। जो दूरियों को खत्म करे, वही तो योग है।

 

कोरोना के इस संकट के दौरान दुनिया भर के लोगों का My Life - My Yoga वीडियो ब्लॉगिंग कंपटीशन में हिस्सा लेना, दिखाता है कि योग के प्रति उत्साह कितना बढ़ रहा है, कितना व्यापक है।

लाइव प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीब कल्याण रोज़गार अभियान की शुरुआत की कोविद 19 के प्रकोप के मद्देनजर, गांवों में लौटने वाले प्रवासी श्रमिकों के लिए रोजगार और आजीविका के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए 20 जून 2020 को

नई दिल्ली 20 जून 2020 गरीब कल्याण रोजगार अभियान के शुभारंभ पर पीएम के संबोधन का मूल पाठ

साथियों,

इस औपचारिक उद्घाटन से पहले, मैं खगड़िया में अपने भाइयों और बहनों से बात कर रहा था। आज गांव के आप सभी से बात करके कुछ राहत भी मिली है और संतोष भी मिला है। जब कोरोना महामारी का संकट बढ़ना शुरू हुआ था, तो आप सभी, केंद्र सरकार हो या राज्य सरकार, दोनों की चिंताओं में बने हुए थे। इस दौरान जो जहां था वहाँ उसे मदद पहुंचाने की कोशिश की गई। हमने अपने श्रमिक भाई-बहनों के लिए स्पेशल श्रमिक ट्रेनें भी चलाईं !

 

गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत करेंगे देश के गांवों में आजीविका के अवसरों को बढ़ाने के लिए पीएम मोदी 20 जून को

6 राज्यों के 116 जिलों में 125 दिनों का यह अभियान प्रवासी श्रमिकों की सहायता के लिए मिशन मोड में चलाया जाएगा

नई दिल्ली 18 जून 2020 इस अभियान के तहत रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के साथ ही स्थायी बुनियादी ढांचा तैयार किया जाएगा

गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत 50,000 करोड़ रुपये के सार्वजनिक कार्य कराए जाएंगे

नीरा और ताड़गुड़ (पामगुर) उत्पाद में संभावनाएं खोजती भारत सरकार रोजगार और व्यवसाय के

केवीआईसी के भारतीय ताड़ उद्योग में प्रवेश से नए रोजगारों, जैविक उत्पादों के सामने आने की संभावना

17 जून 2020 खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) ने नीरा एवं ताड़गुड़ का उत्पादन करने के लिए एक अनूठी परियोजना आरंभ की है जिसमें देश में रोजगार सृजन की भारी संभावना है। इस परियोजना का उद्वेश्य साफ्ट ड्रिंक के विकल्प के रूप में नीरा को बढ़ावा देना तथा जनजातियों तथा पारंपरिक पाशिकों (ट्रैपर) के लिए स्व-रोजगार का सृजन करना भी है। यह परियोजना मंगलवार को महाराष्ट्र, जहां 50 लाख से अधिक ता़ड़ के पेड़ हैं, के पालघर जिले के दहानु में लांच की गई।