बीते पांच सालों की तुलना में इस वर्ष सर्वाधिक मदद पत्रकार कल्याण कोष से

इस वित्तीय वर्ष में पत्रकारों को पत्रकार कल्याण कोष से 47.69 लाख रूपए की आर्थिक मदद : बीते पांच सालों की तुलना में इस वर्ष सर्वाधिक मदद
पत्रकार कल्याण कोष से अब 2 लाख रूपए तक की सहायता का प्रावधान

   रायपुर, 19 फरवरी 2021

छत्तीसगढ़ के पत्रकारों को पत्रकार कल्याण कोष से इस वित्तीय वर्ष में 43 पत्रकारों को 47 लाख 69 हजार रूपए की आर्थिक मदद दी गई है, जो बीते पांच वर्षाें में पत्रकारों को दी गई सहायता से सर्वाधिक है। इस सहायता राशि से गंभीर बीमारी से पीडि़त पत्रकारों एवं उनके परिजनों को इलाज एवं आर्थिक संकट की स्थिति में मदद मिली है।

    मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मंशा के अनुरूप छत्तीसगढ़ शासन द्वारा पत्रकारों को मदद पहुंचाने के उद्देश्य से पत्रकार कल्याण कोष नियम में व्यापक संशोधन किया गया है। संशोधित नियम में पत्रकारों और उनके परिजनों को बीमारियों के इलाज एवं आर्थिक संकट की स्थिति में 2 लाख रूपए तक की मदद किए जाने का प्रावधान किया गया है। इससे पूर्व पत्रकार कल्याण कोष से पत्रकारों को अधिकतम 50 हजार रूपए तक सहायता दिए जाने का प्रावधान था।  

    पत्रकार कल्याण कोष से इस वित्तीय वर्ष में माह फरवरी 2021 तक पत्रकारों को 47.69 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी गई है, जबकि वर्ष 2019-20 में 32.19 लाख रुपए की आर्थिक सहायता पत्रकारों को दी गई थी। पत्रकार कल्याण कोष से वर्ष 2018-19 में 14.43 लाख रुपए, वर्ष 2017-18 में 18.41 लाख रुपए तथा वर्ष 2016-17 में 16.99 लाख रुपए की मदद दी गई थी।
    ज्ञातव्य है कि पत्रकार कल्याण कोष से प्रदेश में कार्यरत पत्रकारों एवं उनके परिजनों को गंभीर बीमारी के इलाज, वृद्धावस्था में आर्थिक संकट, दैवीय विपत्ति आदि कारणों पर आर्थिक सहायता दी जाती है। पत्रकार सहायता कोष के नियम में संशोधन उपरांत उन्हें दंगा, बाढ़ आदि के समाचार कवरेज के दौरान कैमरा, उपकरण आदि के नुकसान और श्रमजीवी पत्रकार की असामयिक मृत्यु तथा परिवार में अन्य कमाने वाला पारिवारिक सदस्य न होने की स्थिति में भी आर्थिक सहायता दिए जाने का प्रावधान किया गया है।

हिन्दी