शासकीय सेवक कोविड 19 का टीकाकरण अनिवार्य: कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य

धमतरी : शासकीय सेवक बारी आने पर कोविड 19 का टीकाकरण अनिवार्य रूप से कराएं, अन्यथा होगी कड़ी कार्रवाई-कलेक्टर मौर्य
पहला जिला स्तरीय जनचौपाल शिविर नगरी के घठुला में
कुपोषण मुक्ति की दिशा में ठोस कदम उठाने समन्वित प्रयास जरूरी
मुख्यमंत्री/कलेक्टर जनचौपाल के लंबित आवेदनों का त्वरित और गुणवत्तापूर्वक करें निराकरण

धमतरी 02 मार्च 2021: कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने आज समय सीमा की बैठक में साफ तौर पर निर्देश दिए हैं कि कोई भी शासकीय सेवक अगर बारी आने पर कोविड 19 का टीकाकरण नहीं कराता है, तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर किसी को चिकित्सीय कारणों से छूट चाहिए, तो पीजी स्तर के डॉक्टर से प्रमाण पत्र लेकर प्रस्तुत करें, अन्यथा कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहें। इसके साथ ही कलेक्टर ने सभी को संकल्प लेने कहा कि अगले दो माह में जिले के 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग और 45 से 59 वर्ष के को-मोर्बिड लोगों का कोविड 19 का टीकाकरण पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए लोगों को अधिक से अधिक पंजीयन कराने के लिए जागरूक करने पर जोर दिया। ज्ञात हो कि जिले में अगले दो माह में एक लाख को-मोर्बिड और 60 साल से अधिक आयु के लोगों को कोविड 19 का टीका लगाने का लक्ष्य मिला है। इसके साथ ही लोगों को कोविड 19 के टीकाकरण के संबंध में अधिक से अधिक जागरूक करने पर कलेक्टर ने बैठक में बल दिया है, जिससे कि आने वाले समय में आम लोगों के लिए जब कोविड 19 का टीका आएगा, तो जिलेवासी स्वयं आगे बढ़कर टीकाकरण कराने आएं।
इसके साथ ही कलेक्टर ने निर्देश दिए कि जिला स्तरीय जनचौपाल शिविर में अधिकारी गंभीरता से लोगों के आवेदनों को यथासंभव निराकृत करने की कोशिश करें। गौरतलब है कि पहला जिला स्तरीय जनचौपाल शिविर नगरी के वनांचल घठुला में आगामी छः मार्च को रखा गया है। बैठक में कलेक्टर ने नए शिक्षा सत्र के लिए जिला शिक्षा अधिकारी और आदिवासी विकास विभाग को शिक्षा के स्तर को बेहतर करने के लिए पहले से रूपरेखा तैयार करने पर जोर दिया है। बैठक में कुपोषण मुक्ति की दिशा में ठोस कदम उठाने के लिए समन्वित और लक्षित प्रयास करने के कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग को निर्देशित किया। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि जल जीवन मिशन में जिले का प्रदर्शन हर हाल में बेहतरीन होना चाहिए। बैठक में गोधन न्याय योजना के तहत गोबर खरीदी, वर्मी खाद तैयार करने की प्रगति की समीक्षा भी की गई। कलेक्टर ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री और कलेक्टर जनचौपाल के लंबित आवेदनों का गुणवत्तापूर्वक और समय सीमा में निराकरण करने के निर्देश दिए। समय सीमा की बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री मयंक चतुर्वेदी, अपर कलेक्टर श्री दिलीप अग्रवाल सहित जिला स्तरीय अन्य अधिकारी और स्वान की वीडियो कॉन्फ्रेंस से ब्लॉक स्तरीय अधिकारी जुड़े रहे।

हिन्दी