हाराडुला के भावेश बघेल की गुरूकृपा ट्रेडर्स फेंसिंग जाली इण्डस्ट्रीज प्रेरक व्यावसायिक सफलता

आत्मनिर्भर बन लोगों को दे रहे हैं रोजगार : स्वयं की इंडस्ट्रीज स्थापित कर भावेश बने सफल व्यवसायी

रायपुर, 24 फरवरी 2021

आत्मनिर्भरता हासिल करने व बेरोजगारों को रोजगार दिलाने के लिए शासन द्वारा चलाए जा रहे कई रोजगारन्मुखी कार्यक्रम का ही सार्थक परिणाम है कि आज युवा अपने सपनों को पूरा कर पा रहे हैं। कांकेर जिले के चारामा तहसील के ग्राम हाराडुला निवासी भावेश बघेल जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र में संचालित प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना के तहत ऋण प्राप्त कर आज एक सफल व्यवसायी बन चुके हैं और साथ ही 10 बेरोजगार युवकों को अपनी दुकान में रोजगार दे रहें हैं।

    कक्षा 10वीं तक पढ़े भावेश आत्मनिर्भर बनने के लिए स्व-रोजगार की तलाश में थे। खुद का व्यवसाय स्थापित करने के लिए भावेश ने जब बैंक चारामा में ऋण लेने की प्रक्रिया की जानकारी लेने गया। तब शाखा प्रबंधक द्वारा ने उसे जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र में संचालित प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम योजना की जानकारी दी। 

हाराडुला के भावेश बघेल ने देर न करते हुए ऋण लेने के लिए आवेदन प्रस्तुत किया। संपूर्ण प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात् बैंक ऑफ बड़ोदा शाखा-चारामा के माध्यम से 8 लाख रूपये का ऋण स्वीकृत किया गया। ऋण प्राप्त कर वह गुरूकृपा ट्रेडर्स फेंसिंग जाली इण्डस्ट्रीज के नाम से उद्योग स्थापित किया। उसके पश्चात् ग्राम-हाराडुला एवं आसपास के गांव की आवश्यकता अनुसार उसने जाली-तार से संबंधित उद्योग खोलने का निर्णय लिया। स्वयं के उद्योग में भावेश जाली-तार मशीन स्थापित कर विभिन्न प्रकार के फंेसिंग जाली, तार इत्यादि का निर्माण कर आस-पास के गांव के साथ-साथ जिले में भी मार्केटिंग का कार्य कर रहा है। इससे उन्हें प्रतिमाह अच्छी आमदनी हो जाती हैं। साथ ही अपने दुकान में 10 बेरोजगारों को रोजगार प्रदान कर रहा है। भावेश की स्वावलम्बी बनने की इस इच्छा ने ही उसे आर्थिक रूप से सशक्त बनाया। वे क्षेत्र के बेरोजगार युवकों के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गये हैं।

हिन्दी