हज की सरकारी तैय्यारी, हाजी और हज्जन जुटे समारोह में

सामाजिक सदभावना छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी ताकत: डॉ. रमन सिंह

मुख्यमंत्री शामिल हुए हज यात्रियों के टीकाकरण, किट वितरण और अभिनंदन समारोह में, छत्तीसगढ़ के 393 हज यात्रियों को दी शुभकामनाएं
 
रायपुर, 16 जुलाई 2017 - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में सामाजिक, धार्मिक और सांस्कृतिक सदभावना का जो शांतिपूर्ण वातावरण है, वह बेमिसाल है और राज्य की सबसे बड़ी ताकत है। उन्होंने कहा राज्य में समाज के सभी वर्गों और समुदायों के बीच परस्पर एकता और भाईचारे की भावना देश और दुनिया के लिए एक आदर्श उदाहरण है। मुख्यमंत्री आज यहां समता कालोनी स्थित अग्रसेन धाम के सभागृह में हज यात्रियों के टीकाकरण, किट वितरण और अभिनंदन समारोह को संबोधित कर रहे थे। समारोह का आयोजन छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी द्वारा किया गया।  

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर राज्य से हज यात्रा के लिए जा रहे 393 हज यात्रियों को उनकी मंगलमय यात्रा के लिए  अपनी ओर तथा प्रदेशवासियों की ओर से शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि हज यात्रा पर जाना मुस्लिम समाज के हर व्यक्ति के जीवन का एक बड़ा सपना होता है। यह मौका नसीब वालों को मिलता है। आप छत्तीसगढ़ के प्रतिनिधि के रूप में वहां जा रहे है। डॉ. सिंह ने कहा - देश में मिसाल दी जाती है कि छत्तीसगढ़ में सभी समाजों के लोग एक दूसरे के साथ मिल-जुलकर रहते है। छत्तीसगढ़ शांति का टापू है। उन्होंने हज यात्रियों से आग्रह किया कि वे अपनी यात्रा के दौरान मक्का में छत्तीसगढ़ की जनता की सुख-समृद्धि और देश तथा दुनिया में शांति और भाईचारे के लिए दुआएं मांगें। उन्होंने कहा कि हज यात्रियों की सुविधा के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा राज्य हज कमेटी के माध्यम से हर संभव प्रयास किये जा  रहे है। समारोह की अध्यक्षता आदिम जाति, अनुसूचित जाति, अन्य पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक विकास मंत्री श्री केदार कश्यप ने की। छत्तीसगढ़ राज्य मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष श्री मिर्जा एजाज बेग, छत्तीसगढ़ उर्दू अकादमी के अध्यक्ष श्री अकरम कुरैशी, छत्तीसगढ़ रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री संजय श्रीवास्तव और छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी के पूर्व अध्यक्ष डॉ सलीम राज विशेष अतिथि के रूप में समारोह में मौजूद थे।
मुख्यमंत्री ने समारोह में कहा - छत्तीसगढ़ में हज हाउस का निर्माण जल्द किया जाएगा। उन्होंने छत्तीसगढ़ के हज यात्रियों के  कोटे में वृद्धि के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय अल्प संख्यक कल्याण मंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। डॉ. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए योजनाएं प्रारंभ की है। उन्होंने खाद्य एवं पोषण सुरक्षा योजना, उज्जवला योजना, शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए संचालित योजनाओं का विशेष रूप से उल्लेख किया। डॉ. सिंह ने मुस्लिम समाज के लोगों से भी आग्रह किया कि वे राज्य सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक संख्या में लाभ लेने के लिए समाने आये। उन्होंने कहा कि जब समाज के सभी वर्गों का विकास होता है तो राज्य और देश का समग्र विकास होता है। अल्पसंख्यक विकास मंत्री श्री केदार कश्यप ने हज यात्रियों को शुभकामनाएं देते हुये कहा कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है जहां हज यात्रियों को उनकी सुविधा के लिए हज किट वितरित किये जा रहे है। हज यात्रियों की सुविधा के लिए हज गाइड मोबाइल एप्लीकेशन तैयार किया गया है और यह एप्लीकेशन हज यात्रियों के स्मार्ट फोन पर उपलब्ध कराया जा रहा है। नागपुर तक जाने के लिए हज यात्रियों के लिए स्पेशल कोच की व्यवस्था की जा रही है। 
छत्तीसगढ़ राज्य हज कमेटी के अध्यक्ष श्री सैय्यद सैफुद्दीन ने हज यात्रियों को शुभकामनाएं देते हुए बताया कि इस वर्ष पिछले वर्ष की तुलना में छत्तीसगढ़ के हज यात्रियों की संख्या में लगभग एक सौ का इजाफा हुआ है। छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष हाजी सलीम अशरर्फी ने भी इस अवसर पर अपने विचार प्रकट किए। छत्तीसगढ़ हज कमेटी के सचिव श्री साजिद मेमन ने हज यात्रियों के लिए किए गए प्रबंधों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर आयोजित स्वास्थ्य शिविर में हज यात्रियों का टीकाकरण किया गया। समारोह में आयोजकों ने मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथियों का अभिनंदन किया।