हड़ताल का असर, रिसाली निगम का काम ठप, नियमित कर्मचारी हड़ताल पर, प्लेसमेंट बैठे रहे टेबल पर

कार्यालय खाली देख लौटे नागरिक

रिसाली, चैदह सूत्रीय मांग को लेकर प्रदेश स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी फेडरेशन के हड़ताल का असर रिसाली निगम में दिखाई दिया। शुक्रवार को नियमित 100 से अधिक कर्मचारी कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन करते रहे। वही कार्यालय में केवल प्लेसमेंट कर्मचारी होने की वजह से काम पूर्ण रूप से बंद रहा। हालांकि इस दौरान नगर पालिक निगम के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे व नोडल अधिकारी रमाकांत साहू पूरे दिन अपने कार्यालय में बैठे रहे। खास बात यह है कि एक दिन पहले कर्मचारियों ने सामूहिक अवकाश की अर्जी आयुक्त महोदय को सौप दिया था।
फेडरेशन का समर्थन करते हुए 28 प्रतिशत डीए दिए जाने की मांग को लेकर स्वात्यशासी कर्मचारी महासंघ शाखा रिसाली के अध्यक्ष के गोपाल सिन्हा के नेतृत्व में सद्स्यों ने जमकर नारेबाजी की। मुख्य कार्यालय के बाहर दोपहर 3 बजे तक कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान महासंघ के रोहित वर्मा, शत्रुघन नायक, निर्मल देशमुख, नीलू यादव, हीरामणी चंद्राकर, नलनीश मिश्रा, विवेक रंगनाथ, चंद्रपाल हरमुख, ऐमन चंद्राकर ने नुक्कड़ सभा को संबोधित किया।

आवश्यक सेवाएं रही चालू
कलमबंद हड़ताल की वजह से रिसाली निगम कार्यालय में काम काज पूरी तरह प्रभावित रहा। वही आवश्यक सेवा के तहत क्षेत्र की सफाई व्यवस्था, जल आपूर्ति नियमित समय में किया गया। अन्य कार्य पूर्ण रूप से बाधित रहा।

लौटे हितग्राही
रोज की तरह निगम कार्यालय में अलग-अलग समस्याओं को लेकर पहुंचे सैकड़ों हितग्राहियों को वापस लौटना पड़ा। जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र, राशन कार्ड बनाने, नल कनेक्शन, भवन अनुज्ञा, आई डी बनाने समेत कई कार्य हुए ही नहीं।